Introduction of VPN

VPN

VPN क्या होता हैं?

VPN का पूरा नाम Virtual Private Network होता हैं| VPN एक App या फिर एक Software होता हैं| जो कि हमारें Network को सुरक्षा प्रदान करता है| असल में VPN हमारें Original IP Address को किसी दुसरे IP Address से बदल देता है जो कि हमें VPN Provider द्वारा दिया जाता है| इसकी वजह से हमारी लोकेशन को ट्रेस कर पाना भी मुश्किल होता है क्योंकि VPN Provider द्वारा दिया गया IP Address किसी दूसरी Location का होता हैं| VPN Anonymously Websites को ब्राउज करने में हमारी मदद करता है और साथ ही इसकी मदद से हम Banned Websites को भी Visit कर सकते है| VPN User और Provider के बीच point-to-point कनेक्शन बनता है जिसकी वजह से Data leak होने की संभावना न्यूनतम होती हैं|

VPN कैसे काम करता है?

Online की दुनिया कई बड़ी हैं और यहाँ हम अपनी हर Details को स्टोर रखते हैं| पर इसी जगह बहुत से खुराफाती लोग भी रहते हैं| जो कि बहुत सी बार इन Details को चोरी करके लोगों को ब्लैकमेल करते है| इन समस्याओं के सामाधान के लिए VPN को Develop किया गया| VPN को जिस Device में Install किया जाता हैं| उस Device और Internet के बीच VPN एक Secure Connection बना देता हैं| जो कि एक Private Network की तरह काम करता हैं| ये IP Address को Completly Hide कर देता हैं| इसका सबसे बड़ा फायदा ये होता हैं कि मानो कोई Website इंडिया में बैन हैं और हम उसे VPN से चलाते हैं तो उसको Access मिल जाएगा क्योंकि उस साईट तक पहुँचने वाला IP Address किसी दूसरी जगह का होगा| इस तकनिकी की वजह से हमें कोई ट्रेस भी नहीं कर पाता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *