Introduction of Internet

Introduction

Internet मुख्यत: Inter और Net दो शब्दों से मिलकर बना हैं| जहाँ Inter का मतलब International और Net का अर्थ Network से है| इस प्रकार Internet का शाब्दिक अर्थ ‘सूचनाओं के अंतरराष्ट्रीय जाल’ से हैं|
असल में Internet सूचनाओं का एक बहुत ही बड़ा जाल हैं| जहाँ पर दुनियाभर के लाखों कंप्यूटरस के बीच डाटा और सूचनाओं का आदान-प्रदान होता हैं| Internet सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए तारों, केबल्स, सैटेलाइट तथा प्रोटोकॉल्स (नियमों) को जोड़कर बनाया गया एक नेटवर्क है|
इस Network से जुड़े रहने को ही Online रहना कहते है| Internet सेवा Client/Server मॉडल पर कार्य करती है| जब कोई Computer फाइल रिसीव कर रहा होता हैं तो उसे Client Computer कहते है और जो Computer फाइल Send कर रहा होता है उसे Server Computer कहते है|
Internet के कंप्यूटरों में सरकारी, कंपनीज, विश्वविद्यालय और पर्सनल (व्यक्तिगत) कंप्यूटर शामिल होते हैं| जो सब डाटा प्रोवाइड करवाने में सर्वर का काम करते है|

Internet

History

Internet की शुरुआत का उद्धेश्य युद्ध की स्तिथि में संचार व्यवस्था को सुरक्षित रखना था| सन 1969 में अमेरिकन सरकार ने एक परियोजना के तहत एडवांसड रिसर्च प्रोजेक्ट एजेन्सी नेटवर्क (Advanced Research Project Agency Network – ARPANet) नामक एक नेटवर्क विकसित किया| यही से Internet के जन्म की कहानी शुरू होती हैं| बाद में ये ARPANet संचार माध्यम (Communication Channel) में बदल गया| जिसे कॉन्ट्रैक्टर्स, मिलिट्री और विश्वविद्यालयों द्वारा उपयोग में लाया जाने लगा और इसके विकास में सहयोग मिलने लगा|
Network का इस्तेमाल करने के लिए कुछ Standard Protocols (मानकीकृत सुरक्षा नियमों) को विकसित किया गया| जिनके आधार पर लोग एक-दुसरे से कम्यूनिकेट करने लगे और आपस में डाटा शेयर करने लगे|
Internet विकास के अगले चरण में सन 1980 में नेशनल साइंस फाउंडेशन (National Science Foundation) ने कुछ हाई स्पीड कंप्यूटरों को जोड़कर NSFNet (National Science Foundation Network) को विकसित किया| अब तक काफी Network आपस में जुड़ने लगे थे और आपसी सहयोग बढ़ने लगा था|
सन 1991 में नेशनल रिसर्च एंड एजुकेशन नेटवर्क (National Research and Education Network – NREN) की स्थापना की गयी| NREN की स्थापना का मुख्य उद्धेश्य शोध और शिक्षा सम्बंधित सूचनाओं को भेजने के लिए हाई स्पीड नेटवर्क को विकसित करना था| साथ ही Internet की वाणिज्यक संभावनाओं को तलाश भी करना था|

आज के युग में इन्टरनेट सूचनाओं का सुपर हाइवे हैं| जहाँ से किसी भी प्रकार की कोई भी जानकारी बड़ी आसानी से प्राप्त की जा सकती है|

Web

सन 1991 में स्विट्जरलैंड की सेंटर फॉर यूरोपियन न्युक्लियर रिसर्च (Center for European Nuclear Research – CERN आधुनिक नाम European Organization for Nuclear Research) संस्था ने वेब को पेश किया|
Web से पहले Internet पर सिर्फ Text का उपयोग होता था| पर बाद में Web ने Internet की सुगमता को बढ़ा दिया| जिसकी वजह से Internet पर ग्राफ़िक्स, एनीमेशन, आवाज और विडियो भी डाले जाने लगे|

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Internet और Web दोनों में अंतर हैं| Internet एक नेटवर्क हैं जबकि Web Internet पर मौजूद सूचनाओं का एक मल्टीमीडिया इंटरफेस हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *