http vs https

http Stands for HyperText Transfer Protocol And Https Stands for HyperText Transfer Protocol Secure.

Http www के लिए डेटा संचार का आधार है| Http हाइपरटेक्स्ट (HyperText) का आदान-प्रदान या हस्तांतरण (Transfer) करने का प्रोटोकॉल है| हाइपर टेक्स्ट एक संचरित टेक्स्ट होता है जो तार्किक लिंक हाइपरलिंक (Hyperlink) का प्रयोग करता है|

https

Http हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकोल (HyperText Transfer Protocol) वितरित सहयोगी हाइपरमीडिया (Hypermedia) सूचना प्रणाली के लिए एक एप्लीकेशन प्रोटोकोल (Application Protocol) है| क्लाइंट सर्वर (Client Server) कंप्यूटिंग मॉडल में एक अनुरोध प्रतिक्रिया (Request Responce) प्रोटोकॉल के रूप में Http कार्य करता है|

असल में Http और Https में मुख्य अंतर सिक्योरिटी लेयर (Security Layer) का होता है जब Http को कनेक्शन ट्रांसपोर्ट लेयर सिक्योरिटी (Connection Transport Layer Security) या सिक्योर सॉकेट लेयर (Secure Socket Layer) द्वारा इंक्रिप्ट (Encript) कर दिया जाता है तो वह Https कहलाता है|

Https के लिए मुख्य प्रेरणा वेबसाइट के प्रमाणीकरण (Authentication), गोपनीयता की सुरक्षा (privacy protection) और डाटा के आदान-प्रदान की अखंडता है| यह मुख्य रूप से विशेष एवं व्यापक रूप से उन इंटरनेट वेबसाइटों के लिए उपयोग में लिया जाता है जहां पर वित्तीय लेन-देन (Financial transaction) होता है या डाटा की गोपनीयता रखना जरूरी होता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *