Whatsapp सरकार को मैसेज ट्रैक करने की इजाजत नहीं देगा

पिछले काफी दिनों से सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म फर्जी न्यूज़ और विवादित कंटेंट को लेकर चर्चाओं में आ रहे हैं| ऐसे में Facebook से लेकर Whatsapp तक हर किसी पर अँगुली उठी हैं| फेक न्यूज़ को रोकने को लेकर भारत सरकार ने Whatsapp के CEO क्रिश डेनियल को चेतावनी भी दी थी कि अगर आप फेक न्यूज़ को रोकने में नाकाम होते है तो ऐसे में Whatsapp को India में बैन कर दिया जाएगा| साथ ही सरकार ने एक प्रस्ताव भी रखा था कि भारत में एक ऑफिस भी खोला जाना चाहिए| जहाँ पर यूजर्स अपनी समस्याओं से सम्बंधित रिपोर्ट दर्ज करवा सके| साथ ही सरकार ने कहा था कि वो अपने देश के सभी यूजर्स के अकाउंट पर भी नजर रखना चाहेगी और उनके मैसेजस को ट्रैक करना चाहेगी|

Whatsapp

इस मुद्दे पर पिछले दिनों केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद और व्हाट्एप के CEO क्रिश डेनियल ने मुलाकात की थी| CEO क्रिश डेनियल ने आश्वासन दिलाया है कि Whatsapp जल्दी ही फेक न्यूज़ को रोकने को लेकर एक फीचर लॉच कर रहा हैं| जो सभी फर्जी न्यूज़ सोर्स को भी ब्लॉक कर देगा|

पर CEO क्रिश डेनियल ने यूजर्स के मैसेज ट्रैक करने की अनुमति नहीं दी है| यानि सरकार यूजर्स के मैसेज पर नजर नहीं रख सकती है| इसके पीछे CEO क्रिश डेनियल ने यूजर्स की प्राइवेसी का हवाला दिया है|

Whatsapp के कुल 150 करोड़ के आसपास यूजर्स हैं जिनमे से 20 करोड़ से ज्यादा भारत से हैं| ऐसे में अगर भारत में Whatsapp को बैन किया जाता है तो Whatsapp को बड़ा नुक्सान होगा|

खबर तो ये भी है कि Whatsapp जल्दी ही यूपीआई आधारित पेमेंट सर्विस भारत में लांच करेगा| जिसकी टेस्टिंग भी चल रही है| आपको बता दे कि सन 2014 में Facebook ने Whatsapp को 19 बिलियन डॉलर में ख़रीदा था और अब Whatsapp की Parental Company Facebook ही है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *