Computer : Classification

classification-of-computer

Computer एक संगणना यन्त्र है| जो गणनाएँ एवम् तार्किक ढंग से सूचनाओं को तीव्र गति और शुद्धता के साथ संग्रहित करने में सक्षम होता है| 1692 में ब्बेज पास्कल द्वारा बनाएं गए यांत्रिक Calculator से लेकर आज के युग के Computer तक इस मशीन में कई बदलाव हुए हैं| बदलाव के इस लम्बे सफ़र की वजह से ही अतिविकसित Computers का जन्म संभव हो पाया है|

Computer को उसके गुणों के आधार पर कई भागों में बाँटा जा सकता हैं :-

1. एनालॉग कम्प्यूटर :- इस Computer का उपयोग दो मात्राओं या वस्तुओं की तुलना करने हेतु किया जाता है|
2. डिजिटल कम्प्यूटर :- ये Computers गणितीय गणनाओं को हल करने के उपयोग में आते हैं| ये Computers गणितीय अंकों को बाइनरी संकेतों में बदलकर गणना करते हैं|
3. हाइब्रिड कम्प्यूटर :- ये Computers एनालॉग और डिजिटल दोनों तरह के Computers का मिश्रण होते हैं|
4. सुपर कम्प्यूटर :- ये Computers काफी तीव्र और आकार में छोटे होते है| इसी वजह से आजकल इनका प्रयोग बहुतायत से हो रहा हैं|

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *