Application Software

Application-Software

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software) :- इन सॉफ़्टवेयरों को विशेष रूप से उपयोगकर्ताओं (users) की माँग (Demand) के आधार पर Design किया जाता हैं| इन्हें End user प्रोग्राम्स भी कहा जाता हैं| कुछ प्रोग्राम्स जैसे :- Word Processor, Web Browser, Excel Application Software आदि इसी श्रेणी में आते हैं| इन प्रोग्राम्स को दो भागों में वर्गीकृत किया जा सकता हैं :-

  • बेसिक एप्लीकेशन (Basic Application)
  • स्पेशलाइज्ड एप्लीकेशन (Specialized Application)

बेसिक एप्लीकेशन : इन एप्लीकेशनों का उपयोग लगभग सभी क्षेत्रों में किया जाता हैं जैसे :-

  • व्यापार
  • शिक्षा
  • चिकित्सा विज्ञान
  • बैंकिंग
  • इंडस्ट्रीज

एप्लीकेशन सॉफ़्टवेयरों का उपयोग करके बहुत सारे काम आसानी से पुरे किए जा सकते हैं, जैसे : सन्देश भेजना, दस्तावेज तैयार करना, स्प्रेडशीट बनाना, डेटाबेस, online Shopping आदि| एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को इस तरीके से Design किया जाता हैं कि users के लिए काम करना आसान हो| उदाहरण के तौर पर अगर user को MS Word में फाइल बनानी है तो उसे Margin, Line spacing, Font Size आदि पहले से ही set मिलते हैं, जिसे आवश्यकता के अनुसार चेंज किया जा सकता है| user डॉक्यूमेंट में रंग भरने, शीर्षकों और तस्वीरों को आवश्यकता अनुसार जोड़ सकते हैं|

उदाहरण : एक वेब ब्राउज़र भी एक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर ही होता हैं जिसे Internet पर मौजूद Informations और Content खोजने के लिए बनाया गया है|
Web Browsers के नाम : Internet Explorer, Mozilla Firefox, Google Chrome, Safari आदि|

स्पेशलाइज्ड एप्लीकेशन : इसमें हजारों अन्य प्रोग्राम्स होते हैं जोकि विशेष विषयों और व्यवसायों पर ध्यान केन्द्रित करते हैं| कुछ सबसे अच्छे प्रोग्राम्स हैं :- ग्राफ़िक्स (Graphics), ऑडियो (Audio), विडियो (Video), मल्टीमीडिया (Multimedia), वेब लेखन (Web Writting) और कृत्रिम बुद्धि (Artificial Intelligence)|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *